जेवर एयरपोर्ट (नॉएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट ) को सीधे दिल्ली स्थित आइजीआइ एयरपोर्ट तक

मेट्रो के जरिये डायरेक्ट कनेक्टिविटी देने का काम शुरू हो गया है। दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन (डीएमआरसी) की ओर से इसकी फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार की जा रही है। हालांकि डायरेक्ट कनेक्टिविटी से लेकर दो लिंक लाइन पर संभावनाओं को तलाशने का काम शुरू है। यह सभी संभावनाएं ग्रेटर नोएडा के नालेज पार्क से नई दिल्ली तक करीब 38 किमी की होंगी। इस लाइन को भविष्य में शिवाजी टर्मिनल दिल्ली जिसे एयरपोर्ट लाइन कहा जाता है उससे जोड़ने की योजना है। ऐसे में यह एक नया कारिडोर तैयार होगा जो सीधे जेवर स्थित नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा को आइजीआइ एयरपोर्ट से जोड़ेगा। यह रिपोर्ट नौ माह में डीएमआरसी को तैयार करनी है। हाल ही में यीडा और डीएमआरसी के बीच इस लाइन को लेकर करार हो चुका है।

हालाँकि पहले जेवर स्थित नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा को IGI एयरपोर्ट तक जोड़ने में सबसे बड़ी बाधा ग्रेटर नोएडा का एनसीआर प्लानिंग में नहीं जुड़ना था। चूंकि दस लाख की आबादी न होने से मास्टर प्लान 2031 में शामिल नहीं था। ऐसे में सरकार के प्रयास से पहले ग्रेटर नोएडा को मास्टर प्लान 2031 में शामिल कराया गया। उसके बाद एनसीआर प्लानिंग बोर्ड में एयरपोर्ट लाइन को पास कराया गया, जिसके बाद जेवर स्थित नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा को सीधे आइजीआइ एयरपोर्ट से जोड़ने की प्रक्रिया पर काम शुरू हुआ।

जेवर से परी चौक तक करीब 35 किलोमीटर लंबी होगी मेट्रो लाइन

एयरपोर्ट लाइन मेट्रो बनाने के बाद यहां से IGI एयरपोर्ट को सीधे जोड़ने के लिए डायरेक्ट नई कनेक्टिविटी लाइन की तलाश चल रही है, लेकिन दो लिंक लाइन पर भी संभावनाओं को तलाशा जा रहा है कि कैसे कम से कम समय में दोनों एयरपोर्ट पर आने जाने वालों को मेट्रो की सुविधा उपलब्ध कराई जाए। इसके लिए परी चौक से दिल्ली के शिवाजी स्टेडियम तक नया कारिडोर बनाने के लिए डीएमआरसी की ओर से फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार की जा रही है।

बाटेनिक गार्डन बनाया जायगा सबसे बड़ा लिंक मेट्रो स्टेशन

डायरेक्ट लिंक को छोड़ दिया जाए तो जेवर स्थित नोएडा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट जाने के लिए दो बेहतर विकल्प मौजूद हैं। इसके लिए ब्लू लाइन का बाटेनिक गार्डन सबसे बड़ा लिंक लाइन होगा। बाटेनिक गार्डन मेट्रो स्टेशन पर वर्तमान में दो लाइन (मजेंटा और ब्लू लाइन) है। मजेंटा लाइन जनकपुरी वेस्ट 38.235 किमी है। दूसरी ब्लू लाइन नई दिल्ली द्वारका तक है। एक लिंक लाइन नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन (एनएमआरसी) की प्रस्तावित है।

Leave a Reply

Pinterest
WhatsApp