पाकिस्तान और भारत के बीच आने जाने के वाहनों का बंद होना कुछ इस हद तक लोगो पे असर डाल सकता है ऐसा किसी ने सोचा भी नहीं होगा। बहुत से ऐसे लोग हैं जो पाकिस्तान से हिंदुस्तान नहीं आ पा रहे हैं तो दूसरी तरफ ऐसे भी लोग हैं जो भारत से पाकिस्तान नहीं जा पा रहे हैं। ऐसी ही एक घटना है जैसलमेर के युवक विक्रम सिंह की जिनकी शादी 2019 में पाकिस्तान में हुई थी लेकिन उनकी पत्नी 3 साल बाद आज पहली बार अपने ससुराल आ पाई है।

दोनों देशों के बीच रिश्ते भले ही थोड़े ख़राब हो लेकिन काफी पुराने समय से पाकिस्तान और हिंदुस्तान के बीच ऐसी शादिया होती आयी है। कहा तो यह भी जाता है कि सिंध और हिंद में रोटी और बेटी का रिश्ता है। ऐसी एक शादी 2019 में जैसलमेर जिले में रहने वाले विक्रम सिंह की हुई ‌‌। विक्रम की शादी सिंध क्षेत्र के अमरकोट में रहने वाली एक युवती से हुई थी। लेकिन दोनों देशों के बीच खराब संबंधों के चलते वह अपने ससुराल आ नहीं पा रही थी।

लेकिन उसका लम्बे समय का इंतजार अब खत्म हो गया है ससुराल लौटने पर बहू का भव्य स्वागत किया गया उनका एक बेटा भी है। सभी दोनों के लौटने से खुश हैं।

विक्रम ने बताया कि उनकी शादी जनवरी 2019 में हुई थी तब से वह लगातार पत्नी को घर लाने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन कार्रवाई पूरी हो पाती कभी बालाकोट में एयर स्ट्राइक तो कभी उनकी पत्नी का पासपोर्ट ब्लैक लिस्ट कर दिया गया। न केवल इतना बल्कि हिंदुस्तान और पाकिस्तान के बीच चलने वाली ट्रेन थार एक्सप्रेस को भी बंद कर दिया गया था। उन्होंने 3 महीने तक लगातार कोशिश की, बाद में भी कई बार ट्राय किया लेकिन पत्नी को लाने में सफल नहीं हो पाए।

Leave a Reply

Pinterest
WhatsApp