गुजरात कैडर की तेज तर्रार आईपीएस अधिकारी सरोज कुमारी को अपने घर में खुशिया मनाने का दोगुना मौका है. उन्होंने एक साथ दो जुड़वा बच्चों को जन्म दिया है. और इत्तफाक से एक बेटा व एक बेटी है. यानि एक कम्पलीट फॅमिली हुई। इस बात की जानकारी खुद आईपीएस सरोज कुमारी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर यह शेयर करके दी है.

आईपीएस अधिकारी ने अपने नवजात बच्चों की फोटो शेयर करते हुए लिखा कि भगवान ने उन्हें आशीर्वाद स्वरूप बेटा-बेटी दिए हैं. अधिकारी कुमारी द्वारा शेयर की गई अपनी पहली संतान की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी तेज़ी से वायरल हो रही है. अब लोग उन्हें बधाइयाँ दे रहे है.

आईपीएस सरोज कुमारी राजस्थान की मिट्टी की बेटी हैं

गुजरात पुलिस में अपनी सेवा दे रही आईपीएस अधिकारी और राजस्थान की बेटी सरोज कुमारी के घर इस समय खुशियों का माहौल है. अक्सर वर्दी में सभी को दिखने वाली यह आईपीएस बच्चों के जन्म के मौके पर अपनी ग्रामीण पृष्ठभूमि को नहीं भूलीं है. वह बच्चों को जन्म देने के बाद अपनी पारंपरिक ग्रामीण महिलाओं की वेशभूषा लहंगा चूनरी में नजर आई हैं.

सरकारी स्कूल में पढ़ी है सरोज कुमारी

आईपीएस सरोज कुमारी का जीवन संघर्ष उन लोगों के लिए एक मिसाल है जो ये सोचते है कि, सरकारी schools के बच्चे कुछ नहीं कर सकते । सरोज कुमारी ने अपनी शुरुआती पढ़ाई अपने गांव बुडानिया के सरकारी स्कूल से पूरी की है. वह वर्ष 2011 बैच की आईपीएस अधिकारी हैं. इसके साथ ही वह अपने गांव की इकलौती आईपीएस अधिकारी हैं. सरोज कुमारी माउंट एवरेस्ट फतह करने के मिशन में शामिल हुई थी.

उन्हें मिला है कोविड-19 महिला योद्धा का अवार्ड

आपको बता दें कि, महिला आईपीएस अधिकारी सरोज कुमारी को कोरोना महामारी के दौरान किए गए कार्यों के लिए कोविड-19 महिला योद्धा का अवार्ड भी दिया जा चुका है. उन्होंने लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों को खाना देने के लिए साथी महिला पुलिसकर्मियों के साथ मिलकर पुलिस रसोई शुरू की थी. इस दौरान लॉकडाउन में रोजाना छह सौ लोगों तक भोजन पहुंचाया गया था.

Leave a Reply

Pinterest
WhatsApp